Friday, March 30, 2018

तुमने तो कहा था

तुमने तो कहा था,

की सब कुछ ठीक हो जाएगा I

तुमने तो कहा था,

की पत्थर से पानी फुटेगा,

अंबर से तारा टूटेगा,

आँखों में नर्मी लौटेगी,

साँसों में गर्मी लौटेगी,

तुमने तो कहा था,

की सब कुछ ठीक हो जाएगा I

तुमने तो कहा था,

अधरों में अमृत प्याला होगा,

चरणों में मनिक्या मतवाला होगा,

सूरज से सोना निकलेगा,

धीरज से जीना निखरेगा,

तुमने तो कहा था,

की सब कुछ ठीक हो जाएगा I

###







1 comment:

  1. kabhi kabhi sab kuch such nahi hota :(. kehte to ye bhi hein ki ma bap baccho ko kabhi nahi bhoolte, per mere to mujhe bhool chuke hein. :((.

    ReplyDelete